कीवर्ड क्या है और इसकी पूरी जानकारी हिंदी में

अगर आप एक पेशेवर ब्लॉगर है और आपके ब्लॉग्गिंग पे नए है तो आपने कभी ना कभी keyword के बारे में तो सुना ही होगा लेकिन कभी अपने कि keyword क्या है और keyword kise kehte hain अगर नहीं तो ये लेख आपने लिए बहुत ही उत्तम हो सकता है अगर आप keyword के बारे में जानना चाहते है. एक पेशेवर ब्लॉगर के लिए उसका keyword ही उसका हथियार होता है बिना keyword के कोई भी ब्लॉगर कभी भी success नहीं हो सकता है. keyword आपके ब्लॉग पे पोस्ट को ऑप्टिमाइजेशन करता है और आपके पोस्ट्स को organic ट्रैफिक देता है.

Keyword क्या है 

(keyword)कीवर्ड वे शब्द या वाक्यांश होते हैं, जिनका उपयोग करके यूजर गूगल पे या किसी भी सर्च इंजन पे सामग्री खोजते है और खोज शब्दों के साथ सर्च इंजन लाखो वेबसाइट का मिलन करता है और यूजर को सही सामग्री (वेबसाइट) तक पहुचने कि कोशिस करता है.
ये हम पोस्ट जिसे आप गूगल पे सर्च कर पढ़ रहे है “SEO kya hai” “SEO kya hota hai” “What is SEO in hindi” ये भी एक keyword है जिसे आप और दुनिया के बहुत सारे यूजर खोजते है. 
अगर मैं What is keyword in hindi पे परिभासा दू तो keyword वो शब्द है जिसे गूगल या किसी सर्च इंजन पे लोग ज्यादा सर्च करते है वो keyword हो जाता है मान लीजिये आप कभी भी अपना नाम गूगल पे सर्च करते है और आपको कोई भी रिजल्ट गूगल नहीं दिखता है. और आपने अगले दिन ऐसा काम किया जिसे पुरे मीडिया में आपका नाम हो गया है आपके बारे में लोग गूगल पे ज्यादा सर्च करने लगे है तो आपका नाम सर्च इंजन पे एक keyword बन जाता है.

keyword कितने प्रकार के होते है (Types Of Keyword)

 TYPE KEYWORD 
 Market Segment Keywords   running shoes 
Customer-Defining Keywords    running shoes for women
Product Keywords    Nike Flex Contact
 Branded Keywords Nike running shoes 
 Head Keywords or Short-Tail Keywords  running shoes 
Mid-Tail Keywords   best running shoes 
Long-Tail Keywords   best running shoes for bad knees 


यह एक बहुत ही अच्छा सवाल है लेकिन इसका उत्तर इतना आसन नहीं है बहुत से SEO कंपनी बहुत सी तरह के keyword के प्रकार के बारे में बताते है लेकिन हमें उन्ही keywords को choose करना चाहिए जिसके ज़रिये हम अपने कंटेंट को SEO friendly बना सके. keyword बहुत से प्रकार के होते है लेकिन हम ब्लॉगर कुछ ही प्रकार के keyword का प्रयोग करते है जैसे :-

  • Short-tail Keyword
  • Long-Tail Keyword

  • Short-Tail Keyword 

जिस कि इस keyword के नाम से ही आपको पता चल गया होगा कि यह एक short keyword है जिसपे हम किसी भी शोर्ट (छोटे) keyword को टारगेट करते है और उसपे काम करते है जैसे :- ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए इस keyword पे आप शोर्ट और long दोनों तरह के keyword देख सकते है शोर्ट है ऑनलाइन और पैसा और अगर इसपे long-tail keyword को देखे तो पैसा कैसे कमाए ये long tail keyword है.

  • Long-Tail Keyword

keyword kya hai Google Search

ये वो keyword है जो आपके focous/main keyword के साथ रहते है जैसे मेरा main keyword है
seo kya hai अब इसका long tail keyword और भी हो सकते है जैसे seo kya hai in hindi. Long-Tail Keyword को find या सर्च करना बहुत आसन है जब भी आप गूगल पे किसी भी शब्द को दाल कर सर्च करते है तो उस सर्च रिजल्ट के niche आपको और भी keywords मिल जाते है Searches related to के नाम पे रहते है उन्हें आप long-tail keyword के रूप में प्रयोग कर सकते है अपने ब्लॉग पे.

Keyword Density क्या होता है 

keyword Density वो होता है जब आप अपने 100 या 200 शब्द के लेख में कितने keywords को डालते है एक अच्छा keyword Density के लिए आपको आपके 100 word के आर्टिकल पे 1-2 keyword का उसे करना चाहिए और आपका आर्टिकल अगर 1000 वर्ड का है तो आपको कम से कम 20 keyword अपने लेख में जरुर उसे करना चाहिए. लेकिन बहुत से ब्लॉगर बहुत से तरह के keyword Density का प्रयोग करते है मैं अपने हर एक पोस्ट पे अलग अलग तरह के keyword Density का प्रयोग करता है कुछ पे 2% और कुछ पे 10% keyword Density का प्रयोग करता हूँ

Keyword रिसर्च कैसे करे 

अगर आपको keyword रिसर्च करना नहीं आता है तो आप हमारे Keyword Research Kaise Kare in Hindi जहा हम आपको keyword रिसर्च के बारे में पुरे विस्तार से बताया है. अगर आप एक नए ब्लॉगर है तो आप हमेशा ऐसे keyword को choose करे जिसका search volume 250 तक और keyword difficulties 0 हो तभी आप आसानी से सभी पोस्ट पे रैंक कर सकते है और जब आपके ब्लॉग पे सभी पोस्ट रैंक करना शुरू हो जाये तब आप ज्यादा सर्च volume वाले keyword पे काम करे.

SEO में keyword कि भूमिका

 keyword सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (seo) में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है अगर आप अपने लेख में सहि तरीके से keyword का इस्तेमाल करते है तो आपका ब्लॉग पोस्ट रैंक हो जाता है और अगर आपका पोस्ट रैंक हो गया तो आपके ब्लॉग पे organic ट्रैफिक ज्यादा आएगा. और उससे आप अपने दुसरे पोस्ट्स पे भी ट्रैफिक भेज सकते है. अगर आपके किसी पोस्ट पे हद से ज्यादा ट्रैफिक आ रहा हो तो आप अपने उस पोस्ट को related post के links जोड़ दे जिससे बाकी पोस्ट को भी ट्रैफिक मिलेगा. और वो भी रैंक हो जायेंगे. हमेशा अपने ब्लॉग के ज्यादा आने वाले ट्रैफिक को दुसरे पोस्ट पे ट्रान्सफर करे.

ब्लॉग पे keyword का प्रयोग कैसे करे 

अगर आप एक SEO FRIENDLY लेख लिख रहे है तो आप इन जगहों पे अपने keyword का प्रयोग जरुर करे.

  1. ब्लॉग टाइटल पे keyword डाले 
  2. यूआरएल पे keyword को डाले 
  3. meta discription टैग में keyword का प्रयोग करे
  4. फोटो के alt tag पे keyword डाले 
  5. heading और sub heading पे भी keyword डाले 

अगर आप अपने सभी पोस्ट को इस चीज का ख्याल रख कर लिखेंगे तो आपका पोस्ट रैंक जरुर होगा और आप पैसे भी जरुर कम सकते है.

keyword एक ब्लॉगर के लिए और एक advertisement कंपनी के लिए भी बहुत जरुरी होता है. अगर आप अपने किसी भी प्रोडक्ट का विज्ञापन देते है तो आप अगर सही keyword का चुनाव करते है तो आप अच्छे ग्राहक तक पहुँच सकते है जिससे आपके प्रोडक्ट कि sell होने कि सम्भावना ज्यादा होगा. ज़्यादातर विज्ञापनदाता उन keyword का उपयोग करते है जिसका सर्च volume ज्यादा होता है.