भाषा किसे कहते हैं और भाषा की परिभाषा

भाषा जिसे बारे में आप में से हर कोई वाकिफ है की आखिर भाषा क्या है और इसका उपयोग क्यों होता है आज इस लेख में हम आपको भाषा और इससे जुडी सारी जानकारी आप तक पहुचने वाले है. आज भारत में 122 भाषाये ऐसी है जिसे सबसे ज्यादा लोग बोलते है और 1599 ऐसी भाषा है जिन्हें बहुत कम जनसंख्या के लोग बोलते है

भाषा किसे कहते है ?


दोस्तों भाषा वह संकेत ध्वनी साधन है जिसके माध्यम से हम मानव अपने विचार तथा इच्छा को दुसरे पर भली भांति प्रकट कर सकते है और दुसरो के विचार को खुद स्वयं समझ सकते है संसार में अनेक भाषाये हिंदी,अंग्रेजी, तमिल , उर्दू, जर्मन इत्यादि

भाषा के भेद कितने है ?

भाषा के 3 भेद है (1) कथित (2) लिखित (3) सांकेतिक

(1) कथित या मौखिक भाषा (Oral language) – यह भाषा का वह रूप है जिसे मुँह से बोला जाता है तथा कानो से सुना जाता हैं


(2) लिखित लिखित या रचित भाषा (Written Language) – यह भाषा का वह रूप है जिसे हाथों से लिखा, आँखों से देखा और पढ़ा जाता है सकता है और यही किसी भी भाषा का असली रूप है


(3) सांकेतिक (Code Language) – यह भाषा का वह रूप है जहा भाषा का प्रयोग केवल संकेतों से अपने विचारों को प्रकट करने के लिए किया जाता हैं इस भाषा का प्रयोग प्राय युद्ध स्थलों तथा गुप्तचर संस्थाओ में किया जाता हैं

भाषा का गठन (Structure of language) – भाषा ध्वनियो का समूह है और भाषा का प्रमुख अंग वाक्य है और वाक्य शब्दों के मेल से बनते है तथा शब्द अक्षरों के मेल से बनते हैं अत अक्षर, शब्द और वाक्य तीनो ही भाषा के मूल आधार हैं.

अक्षर या वर्ण (Letters) – ध्वनियो के माने हुए संकेत या चिन्ह अक्षर कहलाते हैं अक्षरों के सामूहिक रूप को वर्णमाला कहते है अर्थात जैसे अ, आ, इ, ई, क, ख, ग इत्यादि

शब्द (word) शब्दों को प्राय हम समूह में बोलकर या लिखकर अपना भाव प्रकट करते है अतशब्दों का हर समूह जिसका पूरा-पूरा अर्थ समझ में आ जाये वाक्य कहलाता है जैसे “मानव जंगल गया है” एक वाक्य है

वाक्य (sentence) – शब्दों का वह समूह जिसका कुछ अर्थ हो वाक्य कहलाता है वाक्य का निर्माण दो या दो से अधिक शब्दों के मिलने से बनता है जैसे मैं घर गया हूँ.

हमारी वेबसाइट को आज ही suscribe करे और पाए latest न्यूज़ अपडेट OK No thanks